September27 , 2022

    पटना पायरेट्स और दबंग दिल्ली के बीच होने वाले फाइनल से पहले जानिए रोचक आंकड़ें

    Related

    Indian Sexy Video | indian sexy video – Busy Inside

    https://www.youtube.com/watch?v=qArw13Pj4fs In this post we are going to review...

    Hindi sexy video | Sexy video Hindi 2022 – Busy Inside

      Hindi Sexy Video Suno Deverji https://www.youtube.com/watch?v=xI9uAaZrOio Hindi sexy video has been...

    Dehati sexy video | rustic sexy videos – Busy Inside

    dehati sexy video hd, sexy video dehati, dehati...

    Immusync by Vedi Herbals – एक पूरी तरह से प्राकृतिक इम्युनिटी बूस्टर मेडिसिन

    प्रतिरक्षा तंत्र COVID-19 के हाल के दिनों में, सब कुछ...

    Share


    12 टीमें, 136 मैच, और दो महीने से अधिक समय के बाद फाइनल (PKL Final) मुकाबले के लिए दो टीमें तैयार हैं. 25 फरवरी को रात 8:30 बजे से पटना पायरेट्स (Patna Pirates) का सामना दबंग दिल्ली केसी (Dabang Delhi KC) से होगा. जहां पटना चौथी बार फाइनल में पहुंची है और वो इस बार फिर से खिताब जीतना चाहेगी, तो वहीं प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) सीजन 7 के फाइनल में बंगाल वॉरियर्स (Bengal Warriors) से हारने वाली दबंग दिल्ली लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची है और पहली बार खिताब जीतना चाहेगी. ये मुकाबले बेंगलुरु के शेरेटन ग्रैंड व्हाइटफील्ड में खेला जाएगा.

    पटना के इन खिलाड़ियों पर होगी सबकी नजर

    इस मुकाबले को देखने से पहले जानिए किन खिलाड़ियों पर सबकी नज़र रहने वाली है. दोनों टीमों में ऐसे तो कई खिलाड़ी हैं, जो अकेले मैच का रुख पलट सकते हैं लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं, जो लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं और इस मैच में भी उनसे अपनी फॉर्म बरकरार रखने की उम्मीद होगी. पटना पायरेट्स के मोहम्मदरेजा चियानेह (Mohammadreza Chiyaneh) और सुनील (Sunil) की डिफेंस की जोड़ी पर सबकी नज़र रहेगी. पिछले मुकाबलें में ईरानी खिलाड़ी ने एस सीजन में 10 हाई-5 लगाकर इतिहास रचा, तो सुनील भी 21 मुकाबलों में 48 टैकल प्वाइंट्स हासिल कर चुके हैं. हालांकि इस सीजन पटना पायरेट्स को दिल्ली के खिलाफ एक भी जीत नहीं मिली है.

    नवीन चले, तो दिल्ली बन सकती है चैंपियन

    दिल्ली के नवीन कुमार (Naveen Kumar) के प्रदर्शन पर इस मैच का फैसला निर्भर होगा. नवीन के चलने के मतलब है, दिल्ली की जीत. नवीन इतिहास के ऐसे पहले खिलाड़ी हैं, जिन्होंने लगातार 28 सुपर 10 पूरा किया है. लेकिन उनके सामने सीजन की सबसे मजबूत टीम है, जो इस सीजन सबसे अधिक मैच जीतने वाली टीम है. इसके अलावा उनकी रेडिंग लाइन-अप सबसे बेहतर रही है. मोनू गोयत (Monu Goyat), प्रशांत राय (Prashanth Rai), सचिन तंवर (Sachin Tanwar) और गुमान सिंह (Guman Singh) ने विपक्षी डिफेंडर की मुश्किलें हमेशा बढ़ाई है. पटना पायरेट्स इससे पहले तीन बार फाइनल में पहुंची है और तीनों बार उन्हें जीत मिली है. जबकि दबंग दिल्ली इससे पहले सीजन 7 में फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही थी, जहां उन्हें बंगाल वॉरियर्स ने हराया था. 

    ये भी पढ़ें: इन तीन खिलाड़ियों ने रेड में बरसाएं हैं अंक, इस सीजन हासिल कर चुके हैं 250 से अधिक रेड प्वाइंट्स

    .



    Source link

    spot_img